4,185 Total Views

अल्मोड़ा-रविवार को अल्मोड़ा के पूर्व विधायक मनोज तिवारी ने बच्चों के साथ उपस्थित रहकर बाल दिवस को मनाया।इस अवसर पर उन्होंने बच्चों के बीच कला प्रतियोगिता भी कराई गयी तथा बच्चों को पुरस्कृत भी किया गया।इस अवसर पर पूर्व विधायक मनोज तिवारी ने कहा कि बच्चे ही देश का भविष्य होते हैं।यदि बच्चों के वर्तमान को बेहतर बनाने पर जोर दिया जाए तो निश्चित रूप से देश का भविष्य प्रकाशमान होगा।भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पण्डित जवाहरलाल नेहरू की 153 वी जयन्ती पर पूर्व विधायक मनोज तिवारी ने उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए कार्यक्रम की शुरूआत की।इसके पश्चात् बच्चों की कला प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।कला प्रतियोगिता में प्राची रानी ने प्रथम स्थान,वंश कुमार ने द्वितीय स्थान तथा मेहुल कुमार ने तृतीय स्थान प्राप्त किया।पूर्व विधायक मनोज तिवारी द्धारा प्रतियोगिता में प्रतिभाग करने वाले सभी बच्चों को पुरस्कृत कर उनका उत्साहवर्धन किया गया।पूर्व विधायक ने इस अवसर पर सम्बोधित करते हुए कहा कि यह दिन देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू की जयंती का प्रतीक है।बच्चों के द्वारा प्यार से चाचा नेहरू कहने जाने वाले जवाहर लाल ने बच्चों की सर्वांगीण शिक्षा की वकालात की जिससे भविष्य में एक बेहतर समाज का निर्माण हो सके।पंडित नेहरू को बच्चों से बहुत लगाव था इसलिए बच्चे उन्हें प्यार से चाचा नेहरू के नाम से बुलाया करते थे।उन्होंने कहा कि पंडित नेहरू को बच्चों से काफी लगाव था।14 नवंबर 1889 को उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद में जन्में जवाहरलाल नेहरू को बच्चों से खासा लगाव था और बच्चे उन्हें चाचा नेहरू कहकर पुकारते थे।कहते हैं कि बच्चों की शिक्षा और बेहतर जीवन के लिए नेहरू हमेशा अपनी आवाज उठाया करते थे।इतना ही नही भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान,भारतीय प्रबंधकीय संस्थान जैसे प्रमुख शैक्षणिक संस्थानों की स्थापना जवाहरलाल नेहरू ने ही की थी।चाचा नेहरू का कहना था कि आज के बच्चे कल का भारत बनाएंगे।इस अवसर पर सभाषद सचिन आर्या,हेम सती,विशिष्ट अतिथि पूर्व राज्यमंत्री ए०के०सिकन्दर पवार,जिला उपाध्यक्ष तारा चन्द्र जोशी,व्यापार मण्डल वरिष्ठ उपाध्यक्ष राजेन्द्र प्रसाद,विनीत कुमार,विनोद कुमार,रमन कुमार,शिवानी रानी,सुन्दरी देवी,खष्टी देवी,कन्हैया,रितिक,रजत,ममता देवी,रोहन कुमार आदि उपस्थित रहे।कार्यक्रम की अध्यक्षता सभाषद सचिन आर्या ने की।

error: