10,150 Total Views

अल्मोड़ा-एजुकेशनल मिनिस्ट्रीयल आफीसर्स एसोसिएशन कुमाऊं मण्डल नैनीताल द्वारा मुख्य प्रशासनिक अधिकारी व वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी के पद पर भर्ती वर्ष 21-22 हेतु पदोन्नति हेतु कार्यवाही करने की मांग की है ताकि एक जुलाई 2021 से तीस जून 2022 के मध्य सेवानिवृत्त होने वाले सदस्यों को भी पदोन्नति का लाभ मिल सके।मुख्यमंत्री द्वारा वास्तविक रिक्तियों व परिणामी रिक्तियों को शामिल करते हुए पदोन्नति हेतु शासनादेश जारी किया है।इस शासनादेश को प्रभावी रूप से लागू किया जाए।धीरेन्द्र कुमार पाठक सचिव कुमायूं मंडल नैनीताल द्वारा अवगत कराया गया है कि सदस्यों द्वारा इस भर्ती वर्ष के भीतर पदोन्नति हेतु लगातार मांग की जा रही है।इस संबंध में निदेशक प्रारम्भिक शिक्षा उत्तराखंड रामकृष्ण उनियाल को पत्र प्रेषित किया गया है।संगठन के मंडलीय अध्यक्ष जगमोहन सिंह खाती,जिलाध्यक्ष अल्मोड़ा पुष्कर सिंह भैसोड़ा,जिला मंत्री पंकज जोशी द्वारा भी मुख्य प्रशासनिक अधिकारी व वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी के पद पर पदोन्नति हेतु कार्यवाही करने की मांग की गई है।सचिव कुमायूं मंडल नैनीताल द्वारा कहा गया है कि सदस्यों के सभी प्रकरणों का निराकरण समय सीमा के भीतर हो।पाठक द्वारा कहा गया है मुख्य प्रशासनिक अधिकारी व वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी के कार्य एवं उत्तरदायित्व का निर्धारण सदस्यों के मांग के अनुसार किया जाय और राजपत्रित अधिकारी के गरिमा के अनुसार ही कार्य व उत्तरदायित्व निर्धारित किए जाने चाहिए।उन्होंने कहा कि इन पदों पर कार्यरत सदस्यों द्वारा शासन से भी गजट नोटिफिकेशन कराने की मांग की गई है उस पर भी कार्यवाही की जाय।उन्होंने बताया कि पुनः शासन व विभाग को बैठक कर प्रस्ताव भेजा जाएगा पूर्व में भी सीमेट में कार्यशाला आयोजित कर सुझाव मांगे गए थे और मुख्य और वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा भी ज्ञापन सौंपा गया था।किन्तु विभाग द्वारा उस पर कार्रवाई नहीं की गई जिससे सदस्यों में भारी नाराजगी है।धीरेन्द्र कुमार पाठक द्वारा पदों के अनुसार कार्य व उत्तरदायित्व की समीक्षा करते हुए कार्य निर्धारण करने की मांग की है ताकि असंतोष समाप्त हो।पाठक द्वारा समय पर पदोन्नति हेतु गोपनीय आख्या को आनलाइन करने हेतु निर्देश जारी करने की मांग की है। पाठक द्वारा दिव्यांग सदस्यों के प्रधान सहायक से प्रशासनिक अधिकारी के पद पर लंबित सूची को भी जारी करने की मांग की है।संबंधित सदस्यों द्वारा अपना अपना दिव्यांग प्रमाण पत्र शिक्षा निदेशालय में जमा कर दिया गया है।

error: